आखिर क्यूँ 2019 में 14 नहीं 15 जनवरी को मनाई जा रही है मकर संक्रांति?,जानिए इसकी खाश वजह

2
303




Image result for मकर संक्रांति फोटो

हर साल 14 जनवरी को मनाई जाने वाली मकर संक्रांति इस साल 15 जनवरी को मनाई जा रही है,जिस कारन प्रयागराज में हो रहा कुम्भ भी इस साल 15 जनवरी को शुरू होने जा रहा है.साथ ही पहला स्नान भी 15 जनवरी से ही शुरू होंगे.साबुत मूँग दाल रेसिपी

मकर संक्रांति क्यूँ कहते है ?

कहते है इस दिन सूर्य धनु राशि को छोड़ कर मकर राशि में प्रवेश करता है.इसी वजह से इस संक्रांति को मकर संक्रांति के नाम से जाना जाता है.इस साल राशि में ये परिवर्तन 14 नहीं बल्कि 15 जनवरी को दर रात को होने जा रहा है ,इसलिए इस बार 15 जनवरी को मकर संक्रांति मनाया जायेगा.

मकर संक्रांति का महत्व क्या है ?

Image result for मकर संक्रांति फोटो

 

मकर संक्रांति के अवसर पर गंगा स्नान एवं दान को अत्यंत शुभ माना गया है . इस दिन प्रयागराज में गंगा स्नान अपना अलग ही महत्व दर्शाता है दुनिया भर से सैकड़ो की संख्या में लोग यहा इकठ्ठा होते है,इस दिन सूर्य दक्षिणायन से उतरायण ने प्रवेश करता है,वही,मकर संक्रांति के दिन से ही खरमाश की समाप्ति और शुभ कार्यो की शुरुआत होती है.,इस दिन सूर्य के दक्षिणायन से उतरायण तक का सफ़र महत्व रखता है.कहा जाता है की सूर्य के उत्तरायन काल में ही शुभ कार्य (काम) किए जाते है

मकर संक्रांति की एक छोटी सी ऐतिहासिक मान्यता…

Image result for मकर संक्रांति फोटो




ऐसा कहा जाता है कि इस दिन भगवान् भास्कर अपने पुत्र शनि से मिलने उनके घर जाते है,क्युकी शनिदेव मकर राशि के स्वामी है,अत इस दिन को मकर संक्रांति के नाम से जाना जाता है. महाभारत काल में भीष्म पितामह ने अपना देह इसी दिन त्यागा था. इसी दिन गंगाजी भागीरथ के पीछे-पीछे चलकर कपिल मुनि के आश्रम से होती हुई सागर में जाकर मिली थी.

ज्यादा से ज्यादा खबर पाने के लिए स्टूडेंट रॉक्स सब्सक्राइब करे

Like&Follow Facebook Page

 

 




2 COMMENTS

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here